CM योगी की कड़ी चेतावनी, अगर नही बनी बीजेपी सरकार तो भंग कर देंगे निकाय बोर्ड

KANPUR. यूपी में स्थानीय निकाय चुनाव का दौर चल रहा है। ऐसे में सभी पार्टी के नेता चुनाव प्रचार में लगे हैं। सीएम योगी आदित्यनाथ ने आज चेतावनी वाले अन्दाज में जनता से समर्थन मांगा।-FARKINDIA.ORG

 

KANPUR की चुनावी सभा में उन्होंने ऐलानिया तौर पर कहा कि स्थानीय निकाय में गैर-BJP सरकार बनी तो भ्रष्टाचार पनपेगा और ऐसे में राज्य सरकार को लूट खसोट करने वाले स्थानीय निकाय बोर्ड भंग करने पड़ेंगे।

अयोध्या के बाद पहुंचे KANPUR

कल अयोध्या में अपने चुनाव अभियान का श्रीगणेश करने के बाद यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने दूसरी जनसभा KANPUR में की। इस शहर को राजनैतिक चेतना का गढ़ माना जाता है इसलिए योगी कई बिन्दुओं पर मुखर होकर बोले। उन्होंने कहा कि नगर निकायों में गैर BJP सरकार बनने पर भ्रष्टाचार पनपने की पूरी आशंका है और खुला ऐलान किया कि ऐसे लूट खसोट करने वाले नगर निकाय बोर्ड भंग कर दिये जाएंगे।

 

ALSO READ. इस यादव अफसर को योगी सरकार ने 5 महीने भी नहीं रहने दिया, भेजा वापस

अयोध्या जाने वाला पहला मुख्यमंत्री

उन्होंने सभी तेरह नगर निकायों के साढ़े चार करोड़ वोटरों से BJP सरकार बनाने की अपील की। पांच बार अयोध्या जाने वाला मुख्यमंत्री सीएम ने चुनावी जनसभा में अयोध्या का मुद्दा भी उछाला और खुद को पांच बार अयोध्या जाने वाला पहला मुख्यमंत्री बताया। सीएम योगी ने सभी नगर निगमों में एलईडी स्टीट लाईट्स लगाने का ऐलान किया। उन्होंने केन्द्र सरकार के सार्वजनिक उपक्रम के माध्यम से ये लाईटे लगवाने की बात कही। एलईडी के इस्तेमाल से जो बिजली बिल की बचत होगी, उससे एलईडी बल्बों की लागत निकाली जाएगी।

KANPUR के मेट्रो का डीपीआर तैयार

तैयार हुआ KANPUR मेट्रो का डीपीआर सीएम योगी ने BJP सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि BJP राज में ही KANPUR के मेट्रो का डीपीआर तैयार हो चुका है। साथ ही फुटपाथ बाजार और रेवड़ी वालों को व्यवस्थित पुनर्वास देने की पूर्ण योजना है। इससे लोगों को सड़क अतिक्रमण से मुक्ति मिलेगी। फरवरी में होगी इन्वेस्टर सम्मिट उन्होंने बताया कि राज्य सरकार विदेशी और बाहरी पूंजी निवेश के लिए फरवरी माह में इन्वेस्टर सम्मिट आयोजित करेगी।

 

ALSO READ. सांसद अंजुबाला ने मनमाने तरीके से हो रही बैठक का किया विरोध

अपराधी एनकाउण्टर होने के भय से ग्रसित

पूंजीपतियों को सुरक्षित माहौल देने के लिए फरवरी से पहले राज्य की कानून व्यवस्था में मूलभूत सुधार दिखाई पड़ेंगे। सीएम ने परोक्ष शब्दों में कहा कि पुलिस एनकाउण्टर को समर्थन की सरकारी नीति जाहिर की। उन्होंने कहा कि अपराधी एनकाउण्टर होने के भय से ग्रसित हैं। वे जमानत पर जेलों से बाहर नहीं आना चाहते हैं। उन्हें भय है कि उन्हें अपने अपराधों की कीमत चुकानी पड़ सकती है।

-FILE PHOTO

Check Also

गठबंधन

माया-अखिलेश इस दिन से शुरु करेंगे चुनाव प्रचार, जानें कहां होगी पहली रैली

लखनऊ। लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर SP-BSP ने अपनी रणनीति तैयार कर ली है। समाजवादी ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *