एसपी और जज के सामने दरोगा की पिटाई, रामराज बबुआ धीरे-धीरे आई

 

रिपोर्टः सुरजीत यादव

– कचेहरी परिसर में अधिवक्ताओं ने दिया वारदात को अंजाम

– क्लब कैफे पर कार्रवाई के बाद आक्रोशित हुये अधिवक्ता

सीतापुर. जिला प्रशासन के निर्देश पर शहर के क्लब कैफे पर हुई कार्रवाई और बाद में इसके अध्यक्ष और महामंत्री को कोतवाली में बैठाने से आक्रोशित अधिवक्ताओं ने पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चौधरी और जिला जज राजेन्द्र कुमार की मौजूदगी में एक दरोगा की पिटाई कर सनसनी फैला दी।

सूत्रों की माने तो कुछ अधिवक्ताओं के द्वारा पुलिस अधीक्षक से भी अभद्रता करने का समाचार मिला है। इस मामले में एसपी के निर्देश पर पीटे गये दरोगा की तहरीर पर हमलावर अधिवक्ताओं के विरूद्ध अभियोग दर्ज करने के निर्देश शहर कोतवाल हरमीत सिंह को दिये है। दूसरी तरफ अधिवक्ताओं ने दावा किया है कि दरोगा के द्वारा चैम्बर में घुसने के दौरान अभद्रता की गई थी, जिसके चलते कुछ नोक झोक हुई है।

मालूम हो कि क्लब कैफे पर जिला प्रशासन के अधिकारियों को शराब की बोतले मिली थी। अधिकारियों का कथन है कि यहां पर होटल के नाम पर जुआं का अड्डा संचालित किया जा रहा है, जिसके बाद क्लब कैफे को खाली करवाया जाने लगा।

बताया जाता है कि यह कैफे अधिवक्ताओं की देख रेख में ही चलाया जा रहा था। इसके अध्यक्ष बार टैक्स एसोशिएसन के अध्यक्ष ओमप्रकाश गुप्ता है। अधिकारियों के द्वारा क्लब कैफे पर कार्यवाही करने की जानकारी पाकर कैफे के अध्यक्ष ओमप्रकाश गुप्ता अपने साथी अधिवक्ता रामपाल सिंह के साथ मौके पर पहुंचे, जिसके बाद पुलिस के अधिकारी दोनो अधिवक्ताओं को कोतवाली ले गये, अधिवक्ताओं का अरोप है कि कोतवाली में दोनों अधिवक्ताओं का मोबाइल ले लिया गया। इस बात की जानकारी जब अधिवक्ताओं को हुई तो वह सभी लोग विरोध करते हुये डीएम शीतल वर्मा से मिलने के लिये पहुंचे, लेकिन जब डीएम नही मिली, तो आक्रोशित अधिवक्ता लालबाग चौराहे पर आकर प्रर्दशन करने लगे। इसी बीच जिला जज राजेन्द्र कुमार के बुलाने पर एसपी प्रभाकर चौधरी उनके चैम्बर में पहुंचे। इसी बीच एसपी की सुरक्षा में तैनात दरोगा की अधिवक्ताओं ने पिटाई कर दी। पिटाई का वीडीओं सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद अधिवक्ता और पुलिस प्रशासन आमने सामने आ गया है।

इस सन्दर्भ बार एसोशिएसन के अध्यक्ष हरीश त्रिपाठी से वार्ता की गई तो उन्होने कहा कि हम लोग जिला जज के चैम्बर में वार्ता कर रहे थे, किसी के साथ अभद्रता नही की गई है। वही एसपी प्रभाकर चौधरी ने कहा कि हमलावरो की पहचान की जा रही है। पीड़ित दरोगा की तहरीर पर सम्बन्धित धाराओं में अभियोग दर्ज किया जायेगा।

 

यूपी के सीतापुर में ज़िला जज के सामने एस पी की मौजूदगी में उड़ी कानून की धज्जियां ।वकीलों ने एसपी के PRO/ दरोगा को थप्पड़ों से पीटा ।एसपी से भी की बदतमीज़ी ।

Posted by Syed Asif Raza Jafri on Wednesday, October 31, 2018

Check Also

बीजेपी

मिशन 2019: यूपी बीजेपी ने दलितों को रिझाने के लिए बनाया ये मास्टर प्लान !

लखनऊ. 2019 का लोकसभा चुनाव को देखते हुए उत्तर प्रदेश में बीजेपी ने दलितों को ...