लोकसभा चुनाव को लेकर फिर सक्रिय हुई यादव महासभा, जगदेव को बनाया अध्यक्ष

लखनऊ. लोकसभा चुनाव को देखते हुए अखिल भारतवर्षीय यादव महासभा एक बार फिर सक्रिय होती हुई दिखाई दे रही है। उत्तर प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री जगदेव सिंह यादव को उत्तर प्रदेश का अध्यक्ष बना दिया है। हालांकि कोई सक्रिय प्रवक्ता न होने की वजह से गंभीर मुद्दों पर अभी इस संगठन का बयान नहीं आ पाता है। यह मुद्दा भी बुधवार को कॉफी हाऊस में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान उठा।

अखिल भारतवर्षीय यादव महासभा के प्रदेश अध्यक्ष जगदेव सिंह यादव ने उत्तर प्रदेश यादव महासभा के संगठन को प्रभावी एवं गतिशील बनाने हेतु तथा यादव समाज के सामाजिक, राजनीतिक, शैक्षिक एवं व्यावसायिक उत्थान के लिए प्रथम चरण में संगठनात्मक ढांचे को सुदृढ़ एवं प्रभावी बनाने के लिए आज पदाधिकारियों के मनोनयन की प्रथम सूची जारी की।

जारी सूची के अनुसार, नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष ने प्रथम चरण में 5 प्रदेश उपाध्यक्ष, 11 प्रदेश महासचिव, 10 प्रदेश सचिव व महिला प्रकोष्ठ तथा युवा प्रकोष्ठ के अध्यक्ष के नामों की आज घोषणा की। इसके अतिरिक्त जगदेव सिंह यादव ने उपेंद्र यादव को यादव महासभा का प्रदेश प्रवक्ता नियुक्त किया है।

उन्होंने लखनऊ में, एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि महासभा पूरी तरह यादव समाज के उत्थान के लिए कटिबद्ध है। यादव महासभा के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि हम किसी का विरोध करने में विश्वास नहीं रखते हैं बल्कि हम अपने समाज को मजबूत करने के लिए कार्य कर रहे हैं।

जगदेव सिंह यादव ने कहा कि यूपी में यादवों की 13 प्रतिशत और देश में 15 प्रतिशत आबादी है।
उन्होंने यादव समाज की राजनीतिक भागीदारी पर जवाब देते हुए कहा कि जो भी दल यादव समाज के लोगों को अधिक से अधिक संख्या में टिकट देगा यादव महासभा उसी दल को लोकसभा चुनाव में अपना समर्थन देगी।

इस अवसर पर यादव महासभा के प्रदेश महासचिव अशोक यादव ने कहा कि वर्तमान समय में प्रदेश में जिस तरह यादव समाज के लोगों का उत्पीड़न किया जा रहा है चाहे वह अधिकारी, कर्मचारी क्यों ना हो महासभा सड़क पर आकर यादव समाज के हित की लड़ाई लड़ेंगी।

इस अवसर पर, अखिल भारतवर्षीय यादव महासभा के पदाधिकारियों में प्रदेश महासचिव सी एल यादव, प्रदेश प्रवक्ता उपेंद्र यादव, युवा प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष अभिज्ञान चौधरी आदि उपस्थित रहे।

Check Also

आरक्षण का विरोध करने वाली भाजपा, अब सवर्णों को देगी आरक्षण !

लखनऊ. आरक्षण को लेकर वर्ष 2019 चुनाव के लिए केंद्र की भाजपा सरकार ने नया ...