भारतीय सैन्य सेवा के कई क्षेत्रों में महिलाओं को स्थाई कमीशन मिलेगाः मोदी

वाराणसी. पहली बार सेना में महिलाओं को स्थाई कमीशन मिलने जा रहा है। भारतीय सैन्य सेवा के कई क्षेत्रों में महिलाओं को स्थायी कमीशन मिलेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसकी घोषणा अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी से की है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमारी सरकार महिला सशक्तिकरण के लिए पूरी तरह से समर्पित है। इसके दृष्टिगत जन्म से लेकर जीवन के हर चरण में बेटियों और बहनों की रक्षा, सुरक्षा और सशक्तिकरण के लिए तमाम योजनाएं संचालित की जा रही हैं। सौभाग्य से माता अहिल्याबाई के संकल्प के साथ आज उन्हें भी खुद को जोड़ने का मौका मिला और बाबा विश्वनाथ के दिव्य प्रांगण को भव्य स्वरूप देने के परियोजना का शुभारंभ किया गया।

उन्होंने कहा कि आज का दिन महिला सशक्तिकरण के लिए समर्पित है। अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर देश की हर बेटी, हर बहन को नमन करते हुए प्रधानमंत्री जी ने कहा कि आप सभी नए भारत के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही हैं। आपकी सक्रिय भागीदारी की नए भारत के नए संस्कार गढ़ने में महत्वपूर्ण भूमिका है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज जनपद वाराणसी के अपने एकदिवसीय भ्रमण के दौरान बड़ालालपुर स्थित पंडित दीनदयाल हस्तकला संकुल सभागार में अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर दीनदयाल अंत्योदय योजना-राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत गठित स्वयं सहायता समूह की महिलाओं के साथ राष्ट्रीय आजीविका सम्मेलन-2019 को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम के साथ पूरे देश से 75 हजार महिलाएं भी जुड़ी हुई हैं। हजारों कामन सर्विस सेंटर पर महिलाएं यह कार्यक्रम देख रही हैं। महिला सशक्तिकरण कार्यक्रम के काशी में आयोजन पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि काशी अपने आप में महिला सशक्तिकरण का प्रतीक है। यहां मां गंगा भी हैं और उन्हें धारण करने वाले महादेव भी हैं।

प्रधानमंत्री जी ने अपने गुजरात के मुख्यमंत्री रहने के दौरान की एक घटना की चर्चा करते हुए कहा कि वहां की कुछ बहनों ने मिलने का समय मांगा। वे पंचायत चुनाव में जीती थीं। महिला प्रधान पांचवी तक पढ़ी थी। उससे पूछने पर कि चुनाव जीत कर गांव का क्या करेंगी, उस पाचवीं पास महिला ग्राम प्रधान ने कहा कि हम ऐसा कुछ करना चाहते हैं कि गांव में कोई गरीब न रहे। और उस महिला ग्राम प्रधान की बात को हमने अपना मिशन बना लिया। प्रधानमंत्री ने कहा कि उन महिलाओं का संकल्प मेरे लिए प्रेरणा है। वर्ष 2022 में भारत की आजादी के 75 वर्ष होंगे।

फोटोः वाराणसी में जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी।

Check Also

रेप

वेश्यावृत्ति से किया इंकार तो महिला का किया सामूहिक बलात्कार !

Noida. एक महिला ने प्रॉपर्टी डीलर समेत 6 लोगों के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का मामला ...