IND vs WI: इस वजह से टीम इंडिया के लिए बेहद खास होगा दूसरा T-20 मैच !

लखनऊ। नवाबों के शहर लखनऊ में जब भारतीय टीम मंगलवार को वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टी-20 मैच के लिए उतरेगी, तब उसका लक्ष्य न सिर्फ इस मैच को जीतना होगा, बल्कि सीरीज को अपने नाम करना भी होगा। दोनों टीमों के बीच तीन टी-20 मैचों की सीरीज का दूसरा मैच एकाना इंटरनेशनल स्टेडियम में खेला जाएगा। यह मैच बेहद खास होने वाला है, क्योंकि यह इस स्टेडियम में खेले जाने वाला पहला अंतर्राष्ट्रीय मैच होगा।

सीरीज़ जीत पर भारत की नज़र

भारतीय टीम अगर इस सीरीज को भी जीत लेती है, तो वेस्टइंडीज के खिलाफ यह उसकी तीसरी सीरीज जीत होगी। इससे पहले भारत ने टेस्ट सीरीज में 2-0 और वनडे सीरीज में 3-1 से जीत हासिल की है। वेस्टइंडीज का लक्ष्य इस मैच में अपनी साख बचाने का होगा। वह अगले दोनों मैचों को अपने नाम कर सीरीज जीतने के साथ अपने आत्मसम्मान की रक्षा की कोशिश करेगी।

इससे पहले भारत ने कोलकाता के ईडन गार्डंस में रविवार को खेले गए पहले टी-20 मैच में पांच विकेट से जीत हासिल की। वेस्टइंडीज के लिये यह दौरा अब तक अच्छा नहीं रहा है और ऐसे में दूसरे मैच में भी भारत जीत के प्रबल दावेदार के रूप में मैदान पर उतरेगा।

भारत ने रविवार की जीत से पहले वेस्टइंडीज के खिलाफ आखिरी जीत 23 मार्च 2014 को बांग्लादेश में विश्व टी20 के दौरान दर्ज की थी। ईडन गार्डंस में पांच विकेट से जीत के बाद भारत ने मौजूदा विश्व चैंपियन के खिलाफ जीत-हार के अपने रिकार्ड को 5-3 कर दिया है।

ऐसे में वेस्टइंडीज की टीम अच्छी वापसी की कोशिश करेगी। इसके लिए भारतीय बल्लेबाजी को रोकने के लिए कप्तान कार्लोस ब्राथवैट को अपने युवा गेंदबाज ओशाने थॉमस, रोवमैन पावेल से अधिक उम्मीदें होंगी।

पहले टी-20 मैच में अच्छा प्रदर्शन करने में नाकाम रहे किरॉन पावेल और डेरेन ब्रावो से भी वेस्टइंडीज को बेहद आशा है। शिमरोन हेटमायर और शाई होप को अधिक प्रयास करने की जरूरत है।

बल्लेबाज़ी में करना होगी सुधार

भारतीय टीम ने भले ही जीत हासिल की हो, लेकिन उसे भी अपनी बल्लेबाजी को मजबूत करना होगा। इसमें पहले मैच में अहम योगदान देने में असफल रहे रोहित, शिखर धवन, लोकेश राहुल और रिषभ पंत के अलावा मनीष पांडे को भी अधिक मेहनत करने की जरूरत है।

मेजबान और मेहमान टीम के गेंदबाज अपनी जिम्मेदारी बखूबी निभा रहे हैं, लेकिन रोमांचक मुकाबले के लिए दोनों टीमों के बल्लेबाजों को कमाल दिखाने की जरूरत है।

टीमें :

भारतीय टीम

रोहित शर्मा (उपकप्तान), शिखर धवन, लोकेश, राहुल, मनीष पांडे, दिनेश कार्तिक, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, क्रूणाल पांड्या, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह और खलील अहमद।

वेस्टइंडीज

कार्लोस ब्राथवेट (कप्तान), फाबियान एलन, डारेन ब्रावो, शिमरोन हेटमायर, इविन लुइस, ओबेड मैक्कोय, एशले नर्स, कीमो पॉल, खैरी पिएरे, किरॉन पोलार्ड, रोवमैन पावेल, दिनेश रामदीन (विकेटकीपर), शेरफेन रथरफोर्ड, ओशाने थॉमस।

Check Also

योगासन

पतले होने के लिए ये योगासन हैं राम बाण, जल्द दिखेगा फर्क !

डेस्क. दुनिया भर में लोग बढ़ते वजन और मोटापे से परेशान हैं, जिसके कारण वे ...