आदिवासी महिला से गैंगरेप, मरा समझकर तालाब में फेंककर भाग गए दरिंदे

लिफ्ट देने के बहाने दलित महिला से गैंगरेप, इस तरह भागकर बचाई जानलातेहार. बाजार गई आदिवासी महिला से गैंगरेप की खबर आ रही है। गैंगरेप के दौरान महिला ने संघर्ष भी किया है। मारपीट के भी निशान महिला के शरीर पर हैं। गंभीर रूप से घायल महिला को मरा हुआ समझकर उसे तालाब के किनारे फेंककर फरार हो गए थे।

गांववालों ने गुरुवार को सदर अस्पताल में भर्ती करवाया, जहां से उसे प्राथमिक इलाज करने के बाद रिम्स रेफर कर दिया गया। अपराधियों ने महिला के नाजुक अंग को काफी नुकसान पहुंचाया है। डॉक्टरों की माने तो महिला की स्थिति नाजुक बनी हुई है। वह कुछ भी बताने की स्थिति में नहीं है।

स्थानीय लोगों के मुताबिक, महिला बुधवार को सामान लेने के लिए बाजार गई थी। शाम को घर लौटते समय अपराधियों ने उसे सूनसान जगह पर लेजाकर गैंगरेप किया। इस दौरान मारपिटाई के बाद उसे तालाब के किनारे फेंककर फरार हो गए।

घर न लौटने पर महिला के परिजनों ने उसकी खोजबीन शुरू की। सुबह शौच के लिए गए लोगों ने महिला को तालाब के किनारे लहूलुहान स्थिति में देखा। महिला के पास ही उसकी टोकरी और झोला भी पड़ा हुआ था। इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि पास के ही इलाके में उसके साथ हैवानियत की गई है। पुलिस मामले को दबाने में जुटी हुई है।

Check Also

कांग्रेस के इशारे पर राम मंदिर मामले में लग रहा अड़ंगा : श्रीकांत शर्मा

लखनऊ. प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने राम मंदिर मामले की सुनवाई पर दोबारा ...