भाजपा के संत गाडगे जयंती में नहीं पहुंचे बड़े मंत्री, लालजी निर्मल ने बचाई लाज

लखनऊ. भारतीय जनता पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं द्वारा मनाई जा रही संत गाडगे जयंती में राज्यपाल नहीं पहुंचे। राज्यपाल को कार्यक्रम में पहुंचना था। प्रोटोकाल के तहत अधिकारी भी पहुंच गए थे, लेकिन मंत्रियों की दूरी बनाने की खबर मिलते ही राज्यपाल ने प्रोग्राम रद कर दिए।

गौरतलब है कि लखनऊ के विश्वेश्वरैया प्रेक्षागृह में संत गाडगे की 143वीं महाजयंती मनाई जा रही थी। इस कार्यक्रम में राज्यपाल राम नाईक। दर्जा प्राप्त राज्य मंत्री डॉ. लालजी प्रसाद निर्मल, समाज कल्याण मंत्री गुलाबो देवी और डिप्टी सीएम केशव मौर्य को आना था।

कार्यक्रम में भाजपा के केवल एक मंत्री डॉ. लालजी प्रसाद निर्मल पहुंचे। बाकी सभी मंत्रियों ने बहानेबाजी कर आने से एन वक्त पर मना कर दिया। इसके बाद राज्यपाल ने भी प्रोग्राम रद कर दिए। डॉ. लालजी प्रसाद निर्मल ने लोगों का हौसला बढ़ाते हुए कार्यक्रम को संचालित करवाया। डॉ. लालजी प्रसाद निर्मल न होते तो मंत्रियों के न आने को लेकर हंगामा भी हो सकता था।

हालांकि कार्यक्रम को चुनाव के नजरिए के काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा था। कार्यक्रम के आयोजक और पदाधिकारी भी मंत्रियों के इस नजरिए से काफी नाराज दिखे। बीबीएयू से आए सैकड़ों छात्रों ने कार्यक्रम में शिरकत न कर मंत्रियों को सामंतवादी बताया है।

Check Also

रेप

वेश्यावृत्ति से किया इंकार तो महिला का किया सामूहिक बलात्कार !

Noida. एक महिला ने प्रॉपर्टी डीलर समेत 6 लोगों के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का मामला ...