दिवाली में कहीं ये मिलावटी लाल मिर्च, अदरक, और जीरा बिगाड़ ना दे आपकी सेहत !

डेस्क। दीपावली की तैयारियों से बाजार जगमग हैं। इस प्रकाश पर्व पर लोग उत्साह में जमकर खरीदारी कर रहे हैं। लेकिन ध्यान रहे, बाजार में बढ़ी मांग को पूरा करने के लिए मिलावटखोरों ने भी तमाम उत्पाद उतार रखे हैं। भूल से भी ऐसे उत्पाद न खरीदें। ये नुकसानदायक हो सकते हैं। थोड़ी सी सजगता- सतर्कता से आप इन जहरीली मिलावटी चीजों से बच सकते हैं।

मिलावटी

इस क्रम में भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआइ) ने परीक्षण के कुछ घरेलू नुस्खे बताए हैं। इन परीक्षणों को आसानी से घर पर किया जा सकता है। नकली उत्पादों से लोगों को जागरूक करती पेश है तीसरी किस्त:

काली मिर्च में पपीते के बीज की मिलावट

एक गिलास पानी में कुछ मात्रा में काली मिर्च डालें।
शुद्ध काली मिर्च गिलास की तली में बैठ जाएगी।
पपीते के बीज पानी के ऊपर तैरने लगेंगे।

तुर दाल में चारे के बीज की मिलावट

कांच के एक पारदर्शी प्लेट में थोड़ी सी तुर दाल लें।
दाने को ध्यान से देखें। अधिकतर तुर दाल की बनावट एक जैसी होगी।
कोई दाना हल्का काला या उससे मिलता-जलता दिखे और उसे तोड़ने पर
उसका रंग अंदर सफेद निकले तो वह तुर नहीं है।

लाल मिर्च में रंगीन पाउडर की मिलावट

कांच के पारदर्शी गिलास में आधे से थोड़ा ज्यादा पानी भरें।
अब पानी में थोड़ा मिर्च पाउडर डाल दें।
अगर मिर्च पाउडर पानी में तैरता रहता है तो समझिए कि वह शुद्ध है।
अगर मिर्च पाउडर गिलास की सतह में बैठने लगता है तो मिर्च पाउडर में मिलावट की गई है। पानी का रंग बदलता है तो समझिए रंग मिलाया गया है।

अदरक की ऐसे करें पहचान

अदरक के एक छोटे टुकडे़ को पानी से भरे कांच के गिलास में डालें।
अगर अदरक शुद्ध होगा तो वह किसी तरह का रंग नहीं छोड़ेगा।
पॉलिश वाला अदरक पानी में मिलकर रंग छोड़ देगा।

जीरा में लकड़ी की मिलावट

थोड़ा जीरा हथेली पर रखें।
दोनों हथेलियों से रगड़ें।
अगर जीरे का रंग बदल जाता है, जैसे काला पड़ जाता है तो वह लकड़ी का डस्ट हो सकता है।
रगड़ने के बाद भी जीरे का रंग हल्का पीला ही रहता है तो वह शुद्ध जीरा है

Check Also

अपनी मेहंदी में मस्त होकर नाची मस्तानी, यहां पहली बार देखिए दीपवीर की Wedding Album

डेस्क. दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह ने इटली में शादी की और इस शादी की ...