युवराज का विडियो में फूटा गुस्सा व बताई फैंस को संन्यास लेने की मुख्य वजह कहा :’वो मुझे विवश…’

भारत के 2011 विश्व कप में नायक रहे युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने सोमवार को बात करने के लिए साउथ मुंबई होटल में मीडिया को बुलाया है, जिससे अटकलें लगाई जा रही हैं कि वह संन्यास की घोषणा कर सकते हैं।

भारत के सर्वश्रेष्ठ सीमित ओवरों के क्रिकेटरों में से एक युवराज अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास पर गंभीरता से विचार कर रहे हैं। वह आईसीसी से मान्यता प्राप्त विदेशी टी-20 लीग में फ्रीलांस करियर बनाना चाहते हैं।

बीसीसीआई के एक सीनियर अधिकारी ने हाल में पीटीआई को बताया था कि युवराज अंतरराष्ट्रीय और प्रथम श्रेणी क्रिकेट से संन्यास के बारे में सोच रहे हैं।

इसकी जानकारी रखने वाले बीसीसीआई के एक सूत्र ने कहा, ”वह बीसीसीआई से बात करना चाहेगा और जीटी20 (कनाडा) और आयरलैंड व हालैंड में यूरो टी-20 स्लैम में खेलने के बारे में चीजें स्पष्ट बरना चाहेगा क्योंकि उन्हें इसमें खेलने की पेशकश मिल रही हैं।”

बता दें कि 2011 के वर्ल्ड कप में युवराज सिंह का परफॉर्मेंस काफी शानदार रहा था। महेंद्र सिंह धौनी की कप्तानी में भारत ने फाइनल मुकाबले में श्रीलंका को मात देकर दूसरी बार वर्ल्ड कप पर अपना कब्जा जमाया था। युवराज सिंह 2011 वर्ल्ड कप के हीरो थे और ‘मैन ऑफ द सीरीज’ रहे थे। उन्होंने 9 मैचों में 90.5 के जबरदस्त औसत से 362 रन बनाए थे। उन्होंने 15 विकेट भी झटके थे।

इस वर्ल्ड कप के दौरान युवराज सिंह को कई बार खून की उल्टी भी हुई थी, लेकिन वह इसकी परवाह किए बिना टीम इंडिया को ‘विश्वविजेता’ बनाने में जुटे रहे थे। 2 अप्रैल 2011 को टूर्नामेंट खत्म होते ही युवराज सिंह के कैंसर की खबर मीडिया में आई। वर्ल्ड कप के तुरंत बाद युवराज अपने ट्रीटमेंट में जुट गए। इसके लिए उन्हें अमेरिका जाना पड़ा और कैंसर की वजह से उनके करियर पर बड़ा ब्रेक लग गया।

Check Also

टी20 मैच में इस क्रिकेटर के बर्ताव को देखते हुए आईसीसी ने जारी की चेतावनी

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ बेंगलुरू में खेले ...