उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने पूर्व संघ पदाधिकारी रोशन लाल के निधन पर जताया शोक दिया कंधा

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के पूर्व प्रांत सह संघ चालक रोशनलाल का शुक्रवार सुबह निधन हो गया। आज सुबह उनकी अंतिम यात्रा जीएमएस रोड से निकली। सुबह सवा नौ बजे स्वयंसेवकों के अंतिम दर्शन के लिए उनका पार्थिक शरीर तिलक रोड स्थित संघ प्रांत मुख्यालय पर रखा गया। इस दौरान मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उनके पार्थिव शरीर को कंधा दिया। अंतिम यात्रा उनके प्रेमनगर स्थित पैतृक गांव पहुंची। जहां शमशान घाट में उनका अंतिम संस्कार किया गया।

मुख्यमंत्री ने पूर्व संघ पदाधिकारी रोशन लाल के निधन पर जताया शोक 
मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के पूर्व सह प्रांत संघचालक रोशन लाल के निधन पर गहरा दु:ख व्यक्त किया है। उन्होंने दिवंगत आत्मा की शांति एवं दु:ख की इस घड़ी में शोक संतप्त परिजनों को धैर्य प्रदान करने की कामना की है।

वह 80 वर्ष के थे। वह लंबे समय से बीमार चल रहे थे। स्पीकर प्रेम चंद्र अग्रवाल ने रोशनलाल के निधन पर गहरा शोक प्रकट किया है। रोशनलाल ने विभिन्न स्थानों पर संघ की मजबूती के लिए कार्य किया। मृदुभाषी और बेहद व्यवहार कुशल रोशनलाल अपने पीछे दो पुत्र, पुत्रवधू, एक विवाहिता बेटी, दो भाई और उनके परिजनों को छोड़ गए हैं। वह अपने बडे़ बेटे के साथ जीएमएस रोड स्थित गढ़वाल कॉलोनी, साईलोक में रह रहे थे। शुक्रवार सुबह उन्होंने अंतिम सांस ली।

Check Also

दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के देश चीन को इस कारण लगा बड़ा झटका

दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था  चीन को बड़ा झटका लगा है. अमेरिका के साथ ...