खाकी वर्दी और नागरिको पर हमला करने वाले अपराधियों को भुगतने होंगे अंजाम.

 

 

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा है कि योगी आदित्यनाथ की सरकार में अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई में पुलिस को पूरी तरह छूट दी गई है और इसी का नतीजा है कि संभल में दो जवानों की शहादत के 72 घंटे के भीतर ही यूपी पुलिस ने घटना में शामिल रहे मुख्य आरोपी को मुठभेड़ में मार गिराया है। जबकि बाकी दो अपराधियों की तलाश में भी कांबिंग की जा रही है। इस कार्रवाई के जरिए यूपी सरकार ने ये स्पष्ट संदेश दे दिया है कि एक भी जवान की शहादत बेकार नहीं जाएगी और ऐसी कोशिश करने वाले अपराधियों को मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। अपराधी को मार गिराने वाली पुलिस टीम साधुवाद की पात्र है।

 

 

 

शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा कि हाल की दो कार्रवाइयों के जरिए यूपी सरकार और यूपी पुलिस ने ये बता दिया है कि प्रदेश के नागरिकों और हमारे एक एक जवान की जान हमारे लिए बेहद अहम है। ऐसी घटनाओं में शामिल रहे अपराधियों को ये समझ लेना चाहिए कि पूर्व की सरकारों की तरह यहां उनके पापों को स्वीकार नहीं किया जाएगा। पुलिसकर्मियों पर हमला करने वाले अपराधियों को उसके सख्त परिणाम भुगतने ही पड़ेंगे। यही वजह है कि पिछले दिनों एक दारोगा पर हमला करने वाले पूरे गैंग का ही मेरठ पुलिस ने सफाया कर दिया तो वहीं संभल में हमला करने वाले एक बदमाश कमल को 72 घंटे के भीतर ही मार गिराया गया है। ऐसे अपराधियों को किसी भी तरह का संरक्षण देने वाले लोग भी पुलिस के रडार पर हैं। उनके खिलाफ भी प्रभावी कार्रवाई की जा रही है।

 

 

 

प्रदेश प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा कि सरकार में आने के बाद पहले ही दिन से मुख्यमंत्री  योगी आदित्यनाथ  ने अपराधियों के खिलाफ निर्णायक लड़ाई शुरू कर दी थी। जिसका परिणाम है कि अस्सी से अधिक के करीब खूंखार अपराधी मारे गए तो वहीं हजारों अपराधियों को जेल मे ठूंस दिया गया। हालात ये है कि पुलिस के आक्रामक रवैये से डरे मुख्तार और अतीक जैसे माफिया अदालतों में अपनी जान की पनाह मांग रहे हैं। तो वहीं पिछली सरकारों में खुलेआम गुंडागर्दी करने वाले अपराधी अब अदालतों में सरेंडर कर खुद जेल जा रहे हैं। ये कानून का ही राज है जिसमें आम लोग खुद को महफूज महसूस कर रहे हैं तो वहीं अपराधी दहशत में हैं।

Check Also

यूपी में विधानसभा उपचुनावों की तैयारियां शुरु, सपा-बसपा लड़ेगी अलग-अलग चुनाव