जाने ऑनलाइन आईटीआर फाइल करने की प्रक्रिया…

इनकम कर रिटर्न (ITR) फाइल करने में अब कुछ ही दिन ही बचे हैं. अगर आप भी आखिरी समय की जल्दबाजी से बचना चाहते हैं तो अपना रिटर्न जल्द फाइल कर दें. आखिरी समय में कई बार जल्दबाजी के कारण गलती होने की संभावना बनी रहती है. वित्त साल 2018-19 (आकलन साल 2019-20) के लिए आईटीआर फाइल करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई 2019 है. आइए जानते हैं कैसे आईटीआर फाइल कर सकते हैं. आनलाइन आईटीआर फाइल करने की प्रक्रिया दो पार्ट- भाग ए (Part A)  भाग बी (Part B) में पूरी होती है.

आकलन साल का चुनाव करें  डाउनलोड और zip फाइल को निकाल लें इस फोल्डर में JAR (Java Archive) फाइल पर क्लिक कर यूटिलिटी ओपन करें.
– डाउनलोडेड सॉफ्टवेयर का प्रयोग करें, इसमें अपनी इनकम, कर पेमेंट्स, डिडक्शन आदि की पूरी जानकारी भरें ‘Pre-fill’ बटन क्लिक कर व्यक्तिगत डिटेल कर पेमेंट्स या टीडीएस की जानकारी भी भरें यह देख लें कि कोई जानकारी छूट तो नहीं गई है.
– सभी डेटा भरने के बाद कर और ब्याज देनदारी  रिफंड की अंतिम स्थिति जानने के लिए ‘कैलकुलेट’ पर क्लिक करें.
– यदि कर देनदारी बनती है तो उसे तुरंत पेमेंट करना न भूलें तय फॉर्मेट में यह डिटेल सबमिट करें इसके बाद ऊपर के स्टेप दोबारा करें जिससे कर देनदारी शून्य हो जाए.
– अपने कम्प्यूटर पर आयकर रिटर्न डेटा जेनरेट कर सेव कर लें.

ऐसे भरेंगे पार्ट-बी 
– अपनी आईडी, पासवर्ड, जन्मतिथि  कैप्चा कोड एंटर कर ई-फाइलिंग वेबसाइट पर लॉगइन करें
– ई-फाइल पर जाएं  ‘अपलोड रिटर्न’ पर क्लिक करें.
– उपयुक्त आईटीआर, आकलन साल  पहले से सेव XML फाइल को सलेक्ट करें
– यदि महत्वपूर्ण हो तो डिलिटल सिग्नेचर सर्टिफिकेट (DSC) अपलोड करें
– यह जरूर सुनिश्चित कर लें कि DSC ई-फाइलिंग से रजिस्टर्ड हो
– सबमिट के बट पर क्लिक करें. सफलतपूर्वक सबमिशन होने पर ITR-V दिखाई देगा. इस लिंक पर क्लिक कर ITR-V डाउनलोड करें ITR-V आपके रजिस्टर्ड ईमेल आ जाएगा.

Check Also

थोक मुद्रास्फीति दर में कमी आने से मिली आम जनता को राहत…

थोक मुद्रास्फीति दर जून में मई महीने की तुलना में कम रही. यह जून महीने में ...