बिहार में नही थम रहा बाढ़ का प्रकोप,स्थिति बेहद…

बिहार में बाढ़ का प्रकोप जारी है सरकारी आंकड़ों के अनुसार, प्रदेश के कुल 12 जिलों के 64 प्रखंड की 20 लाख से ज्यादा आबादी बाढ़ से प्रभावित है इनमें अररिया, किशनगंज, शिवहर, सीतामढ़ी, पूर्वी चंपारण, सुपौल, मधुबनी, दरभंगा, कटिहार, मोतिहारी, बेतिया  मुजफ्फरपुर जिले शामिल हैं बताया जा रहा है कि कमला बालन नदी में 1987 के बाद इतना अधिक पानी आया है स्थिति बेहद भयावह हैबाढ़ की वजह से बड़े पैमाने पर सड़कें टूट गई हैं वहीं, अब तक कुल 31 लोगों की जान जा चुकी है आपदा प्रबंधन विभाग के अनुसार, बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में 350 कम्यूनिटी किचेन चलाये जा रहे हैं कई क्षेत्रों से बाढ़ का पानी उतरना भी प्रारम्भ हो गया है बाढ़ प्रभावित सीतामढ़ी की सड़कों का सोमवार को मुआयना किया गया बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जल संसाधन मंत्री संजय झा प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किए थे ग्रामीण विकास विभाग, पथ निर्माण विभाग  ग्रामीण काम विभाग के सचिव भी प्रभावित क्षेत्रों का निरिक्षण कर रहे हैं

सरकारी आंकड़ों के अनुसार, अभी तक बाढ़ से कुल 31 लोगों की जान जा चुकी हैं अररिया में सबसे अधिक 11 लोगों की मृत्यु हो चुकी है वहीं, सीतामढ़ी में 10, शिवहर में एक, किशनगंज में चार, मोतिहारी में दो, मधुबनी में दो  दरभंगा में एक की मृत्यु होने की समाचार सामने आई है सभी मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख रुपए बतौर मुआवजा देने का ऐलान किया गया है

Check Also

राहुल गाँधी के बाद अब कांग्रेस पार्टी की कमान संभाल सकते हैं ये दिग्गज…

कांग्रेस में राष्ट्रीय अध्यक्ष पद को लेकर तलाश अभी जारी है। सभी विकल्पों पर पार्टी विचार ...