यह टायर देता है हवा भरने व फटने की परेशानी से निजात,जानिये कैसे…

मिशेलिन  जनरल मोटर्स ने साथ मिलकर कार चालकों के लिए ऐसा टायर तैयार किया है जो कभी भी पंक्चर नहीं होगा. इस टायर की अच्छाई ये है कि इसमें कोई ट्यूब नहीं है  इसमें हवा भरने की भी आवश्यकता नहीं पड़ती है. यह टायर फ्यूचर एयरलेस टायर टेक्नोलॉजी पर कार्य करता है. इस टायर को Movin’On सम्मलेन में पेश किया गया है जिसे UPTIS ( यूनिक पंचरप्रूफ टायर सिस्टम ) नाम दिया गया है.मिशेलिन  जनरल मोटर्स संयुक्त रूप से इस टायर का प्रोडक्शन वर्ष 2024 की आरंभ में करेगी. इस टायर के प्रोटोटाइप का परीक्षण किया जा रहा है. आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि मिशेलिन पिछले पांच सालों से वायुहीन टायर बनाने का कार्य कर रहे हैं. कंपनी ने 2014 में ट्वेल कॉन्सेप्ट को प्रदर्शित किया  इसे व्यावसायिक रूप से तैयार करने के लिए $ 50 मिलियन डॉलर का निवेश किया था. अपटिस इसी का एक संस्करण है. यह टायर हवा भरने  फटने की परेशानी से निजात देता है.

सस्पेंशन का भी करता है काम

इस टायर का डिजाइन किसी स्प्रिंग की तरह बनाया गया है जिससे ये ऊबड़ खाबड़ रास्तों पर भी अच्छी ग्रिप देता है. ये टायर किसी सस्पेंशन की तरह कार्य करते हैं. मतलब झटकों को ये कार सरलता से झेल लेती है.

नहीं पड़ता है ट्यूब

इन एयरलेस टायर्स की ख़ास बात ये है कि इनमें कोई ट्यूब नहीं लगाया जाता है ऐसे में इनके पंक्चर होने का कोई भय नहीं रहता है. इसके साथ ही ये टायर्स सिर्फ घिसकर ही बेकार हो सकते हैं इसके अतिरिक्त आप इन्हें लंबे समय तक बिना किसी परेशानी के प्रयोग कर सकते हैं.

एक जानकारी के मुताबिक़ हर वर्ष करीब 200 मिलियन टायर्स कबाड़ में फेंके जाते हैं. ऐसे में अपटिस टायर्स के बाजार में आने के बाद ये समस्या समाप्त हो जाएगी. साथ ही इससे लोगों के पैसे भी बचेंगे. लेकिन अभी इन स्पेशल टायर्स के लिए ग्राहकों को लंबा इंतजार करना पड़ेगा.

Check Also

अंतर्राष्ट्रीय बाजारों के कारण बढ़े हैं पेट्रोल व डीजल के दाम,जाने क्या हैं आज के रेट…

पेट्रोल व डीजल के दाम सोमवार को लगातार दूसरे दिन बढ़ गए। दिल्ली, कोलकाता व मुंबई में पेट्रोल सात पैसे ...