करवाचौथ 2018 : बाया में शगुन के रूप में सास को दें ये गिफ्ट !

डेस्क। करवाचौथ का व्रत तो सभी महिलाओं के लिए बेहद खास होता है, इस दिन महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र के लिए व्रत करती है,साल में एक बार होने वाला इस व्रत की शुरुआत सरगी के साथ होती है।

करवाचौथ

दरअसल, इस व्रत में ये रिवाज होता है कि, सुबह सूरज उगने से पहले सास अपनी बहु को सरगी देती है जिसे खाकर बहु व्रत को आगे बढ़ाती है सारा दिन निर्जल रहकर शाम को करवा चौथ की कथा करने के बाद बहू सास को बया देती है। यह बहुत खास रस्म है, इसके बाद रात तो चांद की पूजा करके उसे अर्घ्य देकर व्रत खोला जाता है।

करवा चौथ की रस्में

बता दे कि, इस व्रत में सास अपनी बहु को सरगी तो देती ही है, साथ में बहू को प्यारा सा गिफ्ट भी देती हैं बता दे कि, सरगी में मेवे,फल,मिठाईयां, श्रृंगार का सामान और कपड़े आदि चीजें शामिल होती हैं। इसमें मिलने वाली चीजों को व्रत शुरू करने से पहले खाया जाता है।

– बाया
बाया वो सामान जो बहू अपनी सास को करवाचौथ की कथा सुनने के बाद शगुन के रूप में देती है। इसमें मिठाइयां, मेवे, कपड़े, गहने, श्रृंगार का सामान आदि शामिल रहते हैं।

बाया में सास को दें ये गिफ्ट
मॉडर्न जमाने में व्रत और त्योहार मनाने के तरीके भी बदल गए हैं। आजकल लड़कियां बाया में सास को गिफ्ट के तौर पर लेटेस्ट आइटम्स दे सकती हैं।

1. गहने
सास को इस बार आप पैसे देने की बजाए लेटेस्ट डिजाइन के गहने दे सकती हैं। अपने वजट के हिसाब से आप इसमें झुमके, अंगूठी, सोने या डायमंड की आइटम्स शामिल कर सकते हैं।

2. साड़ी या सूट
अपनी सास को आप उनकी पसंद के फैब्रिक में साड़ी या सूट दे सकती हैं। बनारसी, सिल्क,चंदेरी,खादी आदि बेस्ट ऑप्शन है।

3. ड्राई फ्रूट्स
सेहत का ख्याल रखते हुए आप मिठाई की जगह ड्राई फ्रूट्स भी दे सकती हैं। बादाम, अखरोट,पिस्ता,काजू इसमें शामिल करें।

4. टूर प्लानिंग
सास के साथ ससुर को भी खुश करना चाहती हैं तो इस बार बाया में सास-ससुर के लिए कोई टूर प्लानिंग का गिफ्ट दे सकती है। इस तोहफे को वे उम्र भर याद रखेंगे।

5. फिक्स डिपाजिट
भविष्य की चिंता करते हुए आप सास को इस बार बाया के रूप में फिक्स डिपाजिट भी दे सकती हैं। यह उनके भविष्य में बहुत काम आ सकती है।

Check Also

दिन प्रति दिन खराब होती जा रही पाक की आर्थिक हालात, नेपाल व भूटान को गरीबी में झोडा पीछे

पाकिस्तान के आर्थिक हालात (Pakistan Weak Economy) दिन प्रति दिन खराब होते जा रहे है. ...